Quick Inquiry
Announcement

Announcement..........................

×

पुस्तकालय के नियम

    महाविद्यालय का पुस्तकालय आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण है। महाविद्यालय में पठन-पाठन हेतु निर्धारित सभी विषयों की लगभग 35000 पुस्तकें तथा विभिन्न विषयों से संबंधित मासिक , साप्ताहिक, पत्रिकाएं एवं दैनिक पत्र आदि का विशेष प्रबंध है। वाचनालय में लगभग 150 छात्राओं के बैठने की व्यवस्था है। छात्राओं को पाक्षिक रूप से एवं बुक बैंक से पुस्तकें प्राप्त करने की विशेष सुविधा भी उपलब्ध है। पाठ्यक्रम से संबंधित, विभिन्न विषयों का अध्ययन करने के लिए, संबंधित प्रवक्ताओं द्वारा निर्देशित पाठ्य पुस्तकें प्राप्त कर, पुस्तकालय में ही अध्ययन करने की विशेष व्यवस्था है।

  • पुस्तकालय से पुस्तक के प्राप्त करने के लिए प्रत्येक छात्रा को पुस्तकालय कार्ड दिए जाएंगे यह कार्ड पुस्तकालय से निश्चित अवधि तक ही प्राप्त किए जा सकते हैं।
  • एक पुस्तकालय कार्ड पर केवल एक ही पुस्तक दी जाएगी। पुस्तक कार्ड धारक को ही दी जाएगी अन्य छात्रा व परिचितों को नहीं।
  • पुस्तक प्राप्त करने के लिए छात्रा को निर्धारित काउंटर पर पर्ची देनी होगी ,जिसमें पुस्तक का नाम व लेखक का नाम लिखना होगा। यदि पुस्तक उपलब्ध है तो अगले कार्य दिवस में दे दी जाएगी।
  • पुस्तक प्राप्त करने के लिए पुस्तकालय कार्ड के साथ परिचय पत्र भी प्रस्तुत करना होगा।
  • पुस्तक केवल 14 दिन के लिए ही दी जाएगी ।पुस्तकों को निर्धारित तिथि पर लौटाना होगा।
  • पुस्तक‌ प्राप्त करते समय छात्रा का यह कर्तव्य है कि पुस्तक को अच्छी तरह देख ले कि पुस्तक अच्छी अवस्था में है। पृष्ठ कटे-फटे तो नहीं हैं, जमा करते समय पुस्तक में कोई कमी पाई गई तो उसका उत्तरदायित्व छात्रा का ही होगा।
  • छात्राओं को केवल उसी विषय की पुस्तक दी जाएगी जिन विषयों में वे अध्ययनरत हैं।
  • यदि पुस्तकालय अध्यक्षा सहमत हैं कि किसी छात्रा का निश्चित अवधि के बाद दूसरा कार्ड बनाया जाए तभी उसका दूसरा कार्ड बनेगा।
  • पुस्तकालय कार्ड खो जाने अथवा किसी अन्य छात्रा द्वारा कार्ड पर पुस्तक निकलवा लिए जाने पर भी दायित्व उसी छात्रा का होगा जिसका कार्ड पर नाम अंकित है।
  • छात्राओं को पुस्तक एवं पुस्तकालय कार्ड परीक्षा आरंभ होने के एक सप्ताह पूर्व निश्चित रूप से जमा करना होगा।
  • पुस्तकालय की पुस्तक खोने, चोरी होने अथवा फटने की स्थिति में छात्रा को तीन गुना मूल्य जमा करना होगा या पुस्तक का नवीन संस्करण पुस्तकालय में जमा कराना होगा।